कान दर्द से बचने के सरल घरेलू उपचार:Earache Home Remedies in Hindi

कान में यदि आपके दर्द हो तो इससे आपको बहुत सारी दिक्कतें हो जाती हैं। कई बार कान दर्द का जो मुख्य कारण होता है वो होता है फ्लइड या फिर इन्फेक्शन का होना। इन सब के अलावा अन्य दूसरे कारण भी होते हैं(Kaan dard ke dus gharelu ilaj) आपके कान में दर्द होने के जैसे कान में किसी तरह की क्षती होना, कान में मैल का जमा हो जाना, नाक की नली में दिक्कत होना आदि। ये सभी कारण कान में एक तरह का जोर देते हैं जिससे कान दर्द होने की संभावना अधिक बढ़ जाती है। लेकिन आप इस दर्द से आसानी से घरेलू नुस्खों के जरिए आराम पा सकते हैं। और ये नुस्खे आप अपने घर पर है बैठकर प्रयोग में ला सकते हो।

कान दर्द से बचने के सरल घरेलू उपचार – Earache Home Remedies in Hindi

तुलसी
इस बात में कोई दो राय नहीं है की तुलसी एक जैविक औषधि है। इसमें दर्द निवारक गुण और जीवाणुरोधी गुण मौजूद रहते हैं जो आपके कान में किसी तरह की तकलीफ को नहीं होने देते हैं।
कान दर्द से बचने के सरल घरेलू उपचार – Earache Home Remedies in Hindi
Earache Home Remedies in Hindi
कैसे करें इस्तेमाल
चार से पांच तुलसी के पत्तों को लें और फिर इसे साफ कर इन्हें पीस लें और रस निकाल लें।(Kaan dard ke dus gharelu ilaj)अब आप इसे छानकर ही अपने कानों में इसकी दो से तीन बूंदे डालें। एैसा आप दिन में कम से कम दो बार जरूर करें। इस उपचार से जरूर आपको लाभ मिलेगा।
करें प्याज का प्रयोग
प्याज जिसमें एंटीसेपिटक गुण होते हैं वह हमारे कानों की सेहत के लिए भी अति लाभदायक होता है। यही नहीं प्याज में एंटीबैक्टीरियल गुण भी होते हैं।

इस तरह करें प्रयोग कान दर्द में
प्याज का रस निकालें। और फिर इसे एक कटोरी में रखकर इसे कम आंच पर गर्म कर लीजिए। इसके बाद आप इसकी एक से दो बूंदे अपने में टपकाएं। आपको इस नुस्खे से बहुत आराम मिलेगा।

लहसुन के चमत्कारिक औषधीय फायदे

लहसुन का उपयोग
जैसा की हम सभी को पता है लहसुन गुणों से भरपूर होता है। लहसुन में मौजूद जीवाणुनाशक गुण कान में फैले हुए इन्फेक्शन को आसानी से दूर कर देते हैं।

प्रयोग करने का तरीका
आप सरसों के तेल में लहसुन के पेस्ट को डालें और उसे गर्म कर लें। इसके बाद आप इस तेल को ठंडा कर दें और फिर एक से दो बूंदे अपने कान में टपकाएं। आपको बहुत आराम मिलेगा।


गर्म पानी
आप पानी को गर्म कर लें और फिर इसे किसी बोतल में भर लें। और फिर इस बोतल को किसी तैलिए से लपेट लें। और फिर इससे अपने कानों की सिकाई करें। एैसा करने से आपको दर्द से निजात मिलेगा।

अदरक
अदरक इंसान की सेहत के लिए बहुत लाभकारी होता है। क्योंकि इसमें एंटी—इंन्फ्लामेट्री गुण होते हैं। जो शरीर पर किसी भी तरह के इन्फेक्शन को खत्म करने की ताकत रखते हैं।

इस्तेमाल की विधि
आप एक अदरक लें और फिर इसे पीसकर इसका रस निकाल लें। अब आप इस रस को अपने कानों में डालें। इससे कान के अंदर मौजूद कीड़े या जीवाणु खत्म हो जाते हैं। और आपको कान दर्द से निजात मिलता है।

प्रयोग की विधि
पुदीना की फ्रेश यानि ताजी पत्तियों को लेकर उसका रस निकालें। और फिर इसकी थोड़ी सी बूंदे दर्द वाले कान में डालें। आपको दर्द स निजात मिलेगा। पुदीना दर्द निवारक भी होता है।


नीम
दवा कहें, औषधि कहें कुछ भी कहें नीम हर तरह के रोगों का उपचार करने में सक्षम होती है। रही बात कानों में होने वाले दर्द की नीम के गुण आपके कानों के दर्द को खत्म करने की क्षमता रखते हैं।

कैसे उपयोग करें
ताजी नीम की पत्तियों को लें। और इसे पीस लें। इसके बाद आप इसका रस निकाल लें। अब आप इस रस की थोड़ी सी बूंदे कानों में डालें। एैसा आप दिन में दो से तीन बार कर सकते हो। इससे आपको कान दर्द से पूरी तरह से निजात मिलेगा।


अजवायन
अजवायन हम सभी के घरों में मौजूद रहती है। यह आपको छोटी—छोटी बीमारियों से बचाने का काम करती है। अजवायन में एंटीसेप्टिक गुण रहते हैं।

अजवायन का प्रयोग की विधि
सबसे पहले आप अजवायन का तेल एक चम्मच की मात्रा में किसी कटोरी में डालें इसके बाद आप इसमें इतनी ही मात्रा में तिल का तेल भी मिला लें। अब आप इसे गैस पर कम आंच पर गर्म कर लें। और फिर इसकी दो बूंदे अपने कान में टपकाएं।

आयुवेर्दिक तेल के औषधिय फायदे जो दूर करते हैं हर बड़ी बीमारी को


जैतून तेल से
जब आपको एैसा लगता हो की आपके कान के अंदर मैल जमी हुई है तो आप जैतून के तेल का प्रयोग करें। इस तेल से कान के अंदर की मैल और चिकनाई वाली चीज साफ हो जाती है। और इसके साथ कान का इन्फेक्शन भी ठीक हो जाता है।

कैसे इस्तेमाल करना है जैतून के तेल को
दोस्तों इसके लिए आप जैतून के तेल को कम से कम तीन बूंदे लें , और फिर इसे गुनगुना कर लें। अब आप इयर बड जिससे कानों को साफ किया जाता है उसे इस तेल में डालकर अपने कानों को साफ कर लें। इससे आपको कानों में होने वाली सनसनाहट से भी आराम मिलेगा।


प्रयोग करें हेयर ड्रायर का
आपको जानकर हैरानी होगी की हेयर ड्रायर भी आपको कान की समस्या से निजात दिलवा सकता है।

दोस्तों अक्सर देखा जाता है कान में दर्द होने का जो मुख्य कारण होता है वो होता है कान में पानी का घुस जाना। एैसे में आप हेयर ड्रायर का प्रयोग कर सकते हो वो भी सावधानी के साथ। आप हेयर ड्रायर को कानों से कुछ दूरी पर रखें और फिर इसे चला लें। इससे कान में जमा पानी सूखने लगेगा। ध्यान रखें की आपको ये प्रयोग तीन से चार मिनट तक ही करना है।

ये सारे वैदिक घरेलू नुस्खे आपको जरूर लाभ देंगे यदि एैसा नहीं होता तो आप तुंरत बिना देर किए डॉक्टर को जरूर अपने कानों को दिखाएं।


Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel